लिवर सिरोसिस बीमारी का लक्षण क्या है ? - MyupChaars

Table of Contents. 

लिवर सिरोसिस क्या है ?

लिवर सिरोसिस आज दुनिया भर में 1 साल में लगभग 10 से 11 लाख मौते लीवर सिरोसिस बीमारी के कारण होती है और यह बीमारी एड्स, कैंसर, टीवी, जैसी जानलेवा बीमारी की श्रेणी में आती है और इसका अभी तक कोई इलाज नहीं है ! लीवर सिरोसिस का सिर्फ इसका एक ही इलाज है वह है लिवर प्रत्यारोपण द्वारा किया जाता है ! लिवर सिरोसिस बीमारी कैसे होता है इसके बारे में जानते है ! लिवर शरीर की सबसे महत्वपूर्ण अंगो में से एक है जो शरीर के विभिन्न तरीको से मदद एवं काम करता है जैसे - 

1. लिवर भोजन को पचान क्रिया में मदद करता है !
2. लिवर पित्त का निर्माण करता है !
3. लिवर ब्लड को साफ करने में सहयोग करता है !
4. लिवर कई बीमारी को खत्म करने में सक्षम ! 
5. लिवर अवशिष्ट पदार्थ को बाहर निकाल देता है !
6. लिवर का वजन 2.4 से 5 पाउंड तक होता है !


liver sirrhosis


लिवर सिरोसिस की बीमारी कुछ गलत खान-पान और अल्कोहल और धूम्रपान के कारण यह बीमारी होती है लिवर सिरोसिस बीमारी ज्यादातर 40 उम्र के ऊपर महिला या पुरुष को यह बीमारी हो सकती है लिवर सिरोसिस बीमारी जैसे खान-पान ( तेलीय भोजन ज्यादा करने से यह बीमारी होती है जब कोई भी तेलीय भोजन का सेवन करता है तो लिवर उसे पचाने के लिए बहुत ज्यादा प्रयास करता है लेकिन बाद में वह नकाम रहता है और लिवर की जो कोशिकाएं होती है वह इन्ही के कारण खराब हो जाती है और लिवर की जो संरचना पहले थी अब उससे असमान्य हो गयी और लिवर का काम करना बंद कर देता है इसी को लिवर  सिरोसिस की बीमारी कहते है इस बीमारी का अब तक कोई इलाज नहीं है ! लिवर सिरोसिस का सिर्फ एक ही मात्र इलाज लिवर पत्यारोपण द्वारा संभव है ! लिवर सिरोसिस के लक्षण शुरूआती दौर में पता नहीं चलता है और कोई भी बीमारी नहीं होती है ! लिवर सिरोसिस की दूसरी स्टेज में पता हो जाता है की लिवर सिरोसिस की बीमारी हो गयी है ! यह मालूम तब होता है जब डाक्टर के पास जाकर लिवर फंक्शन का टेस्ट करने के बाद पता चलता है की लिवर सिरोसिस की बीमारी हो गयी है !

लिवर सिरोसिस बीमारी की स्टेज ( चरण )
 

लिवर सिरोसिस बीमारी की स्टेज ( चरण )

लिवर सिरोसिस बीमारी की चार चरण होती है और पहले चरण में लिवर सिरोसिस की बीमारी का पता नहीं हो पाता है और दूसरे चरण एवं स्टेज में पूर्ण रूप से मालूम हो जाता है की आपको लिवर सिरोसिस की बीमारी हो गयी है और यह बीमारी तब मालूम होता है जब इसका कोई इलाज नहीं होता है लेकिन इलाज न होने के कारण अगर समय से पहले ध्यान देते तो सायद आज इस बीमारी से बच जाते और लिवर पत्यारोपण भी न करवाना पड़ता लिवर सिरोसिस की बीमारी में 4 स्टेज में कुछ लक्षण इस प्रकार होते है जैसे - शरीर कमजोर होना, शरीर दर्द, बुखार, उल्टिया, पेशाब का रंग पीला होना ,उल्टी के साथ खून आना , वजन कम होना , भोजन का पाचन सही न हो पाना , अंतिम चरण में पीलिया की बीमारी हो जाना , शरीर में खुजली होना आदि सभी लक्षण लिवर सिरोसिस के बीमारी के 2 चरण से लेकर चौथे 4 चरण में होता है !


लिवर सिरोसिस बीमारी का कारण क्या है ?
 



लिवर सिरोसिस बीमारी का कारण क्या है ?

लिवर सिरोसिस बीमारी का कारण निम्नलिखित कारण के द्वारा होता है जो इस प्रकार है !

1. लिवर सिरोसिस बीमारी होने का प्रमुख कारण गलत खान-पान के कारण होता है जैसे - तेलीय , मीट और मांस मसाले युक्त भोजन ज्यादा करना लिवर सिरोसिस बीमारी का कारण होता है !

2. धूम्रपान और मदिरा का सेवन ज्यादा करने से लिवर प्रभावित होता है जिससे लिवर के कोशिकाये प्रभावित होने से रोग-प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है और लिवर सिरोसिस जैसी जानलेवा बीमारी का कारण होता है !

3. कुछ गलत आदतों के कारण लिवर सिरोसिस और अन्य बीमारी का कारण हो सकती है !

4. ज्यादा पावर की दवा या दर्द की दवा ज्यादा सेवन करने से लिवर प्रभावित होता जिससे लिवर सिरोसिस बीमारी का कारण होता है !

5. किसी बड़ी बीमारी में दवा के साइड इफेक्ट के कारण लिवर सिरोसिस का कारण होती है !

6. किसी जहरीले पदार्थ का सेवन करने से लिवर सिरोसिस की बीमारी या अधिक हैवी डोज भोजन का सेवन करने से लिवर भोजन को अधिक देर से पाचन क्रिया होने से लिवर और पाचन क्रिया प्रभावित होती है !


7. यदि किसी भी व्यक्ति को हेपेटाइटिस बीमारी से लम्बे समय से पीड़ित है तो उसे लिवर सिरोसिस की बीमारी हो सकती है ! 

8. लिवर सिरोसिस बीमारी का कारण बाहर का भोजन का सेवन करने से होती है और साथ में अन्य बीमारी जैसे - पीलिया, पेट दर्द, टायफाइड जैसे जानलेवा बीमारी का कारण होती है !

9. रोग प्रतिरोधक क्षमता के कमजोर होने से कई बीमारी का कारण हो सकती है जैसे - लिवर सिरोसिस, सर्दी-जुकाम, बुखार, कोरोना वायरस आदि सभी बीमारी प्रतिरोधक क्षमता के कमजोर होने के कारण बीमारी होती है !

dont eat meet



लिवर सिरोसिस बीमारी का लक्षण क्या है ? 

लिवर सिरोसिस बीमारी के लक्षण निम्नलिखित प्रकार के होते है अगर किसी भी व्यक्ति में इस प्रकार के लक्षण दिखाई देता है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करे नहीं तो यह स्वास्थ के प्रति जानलेवा हो सकता है !


1. शरीर में खुजली - लिवर सिरोसिस की बीमारी का लक्षण शरीर में खजुली होना यह लक्षण कई बीमारी में शरीर पर अधिक खुजली और लाल दाने या शरीर से रक्त स्राव भी होता है ! शरीर में खजुली अन्य बीमारी के कारण होता है जैसे - लिवर सिरोसिस, खजुली, दवा का रिएक्शन, रक्त में इन्फेक्शन, एच आई वी / एड्स आदि सभी के कारण शरीर में खुजली होती है ! शरीर में अगर खजुली होती है तो इन सभी बीमारी में से एक बीमारी हो सकती है और इस प्रकार का लक्षण दिखाई देने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करे ! 

2. शरीर में दर्द एवं शरीर कमजोर होना - लिवर सिरोसिस की बीमारी में शरीर दर्द या शरीर कमजोर होना यह लक्षण लिवर सिरोसिस के मरीज में दिखाई देता है और शरीर दर्द या कमजोर होना अन्य बीमारी के कारण भी होता है अगर इस प्रकार के लक्षण दिखाई देने पर तुरंत जांच कराये !

3. वजन कम होना -  लिवर सिरोसिस की बीमारी में अचानक वजन कम होता है अगर इस प्रकार का लक्षण होता है तो निम्नलिखित प्रकार की बीमारी हो सकती है जैसे - किसी बीमारी में लम्बे समय से बीमार होना, कैंसर, टीबी , रक्त चाप , लिवर सिरोसिस आदि सभी बीमारी में यह लक्षण होता है !

4. बुखार होना - लिवर सिरोसिस की बीमारी में यह लक्षण हर मरीज के प्रति होती है और बुखार अन्य बीमारी के लक्षण के कारण भी होता है !

लिवर सिरोसिस की बीमारी में अन्य लक्षण जो किसी न किसी बीमारी के लक्षण से मिलते है जो निम्नलिखित प्रकार के होते है जैसे - 

5. चक्कर आना 

6. भूख न लगना और उल्टी का होना 

7. पेशाब का पीलापन होना 

8. पीलिया होना 

9. खाये हुए भोजन का पाचन सही न हो पाना 

10. आंतों में रक्त स्राव का होना 

लिवर सिरोसिस से कैसे करे बचाव ?

लिवर सिरोसिस मरीज के प्रति कैसे करे बचाव एवं स्वस्थ व्यक्ति के लिए अच्छा उपाय और कैसे करे लिवर सिरोसिस से बचाव निम्नलिखित प्रकार है !

1. लिवर सिरोसिस बीमारी से बचाव करने के लिए धूम्रपान का सेवन करने से बचे !

2. सिरोसिस बीमारी से बचाव करने के लिए अधिक मसाले एवं मींट और मांस का सेवन न करे  क्योकि इसके पचान में अधिक समय और लिवर को अधिक कार्य करना पड़ता है !

3. शरीर दर्द ( नार्मल ) चोट दर्द में दर्द की दवा सेवन करने से लिवर पर बुरा असर होता है जिससे लिवर सिरोसिस की बीमारी होती है इसलिए दर्द करने वाली दवा का सेवन न करे !

4. शराब या मदिरा का सेवन न करे क्योकि लिवर पर बुरा असर होता है और लिवर खराब हो जाती है ! 

5. प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाये रखे जिससे किसी भी बीमारी से लड़ने में सक्षम और बीमारी से सुरक्षा करे !

6. लिवर सिरोसिस बीमारी से बचाव करने के लिए हेल्थी भोजन और फल-सब्जी का सेवन करना चाहिए जिससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत रहे !

लिवर सिरोसिस की बीमारी में क्या खाना चाहिए ?

किसी भी बीमारी में यह जानना बहुत ही जरूरी होता है की बीमारी के प्रति कैसा भोजन होना चाहिए जो बीमारी से लड़ने में मदद करे और बीमारी के प्रति कोई भोजन नुकसान देह न हो , लिवर सिरोसिस बीमारी में निम्नलिखित प्रकार का भोजन करना चाहिए !


1. लिवर सिरोसिस की बीमारी आपको साधारण भोजन करना चाहिए !
2. ड्राई फूड जैसे - बदाम, मुनक्का , काजू आदि सभी सिरोसिस की बीमारी में ज्यादा खाना चाहिए !
3. विटामिन और प्रोटीन युक्त का भोजन करना चाहिए !
4. हरी सब्जी और रोटी दाल एवं फल का भी सेवन करे !
5. सिरोसिस की बीमारी और अन्य प्रकार की बीमारी में सलाद अधिक मात्रा में खाये !

green vegitable


लिवर सिरोसिस की बीमारी में परहेज करे !

लिवर सिरोसिस की बीमारी में इस प्रकार का भोजन न करे जो निम्नलिखित प्रकार के होते है !

1. जंक फूड का सेवन न करे !
2. मांस का सेवन अधिक न खाये !
3. तेलीय और मसाले का अधिक सेवन न करे !
4. शराब और मदिरा का सेवन न करे !
5. उच्च वसा युक्त भोजन का सेवन न करे !



dont eat junk food



लिवर सिरोसिस बीमारी की जांच क्या है ?

1. लिवर फंक्शन टेस्ट - लिवर फंक्शन टेस्ट में लिवर से जुडी सभी बीमारी का पता लगाया जाता है और फिर लिवर सिरोसिस बीमारी को जानने के लिए लिवर का फंक्शन का टेस्ट किया जाता है !
लिवर सिरोसिस की बीमारी मरीज के प्रति डॉक्टर मरीज के संपर्क में रहकर मरीज के शारीरिक गति विधियों की जांच करके किसी भी बीमारी का पता लगाया जा सकता है ! डॉक्टर मरीज के शरीर पर निम्न प्रकार के लक्षण दिखाई देता है जिसकी पहचान की जा सकती है लक्षण जैसे - शरीर दर्द , त्वचा पीलापन होना , बुखार , लिवर में कैंसर , स्तन का वजन बढ़ना , अंडकोष में वृद्धि होना आदि सभी प्रकार के लक्षण सिरोसिस की बीमारी में नजर आते है जिससे लिवर सिरोसिस की बीमारी की जांच की जाती है !

लिवर सिरोसिस की जांच निम्न जांच प्रणाली द्वारा भी संभव है जो निम्नलिखित प्रकार के होते है !

1. सिटी स्कैन  2. एम आर आई   3. अल्ट्रासाउंड   4. बायोस्पी जांच 

normal and sirrhosis image


लिवर सिरोसिस का घरेलू इलाज !

लिवर सिरोसिस का इलाज निम्नलिखित इलाज घरेलू नुस्खे के द्वारा किया जाता है जो निम्नलिखित प्रकार के है !

1. लिवर सिरोसिस की बीमारी में चना अधिक फायदेमंद होता है चना को भिगोकर अनुकूरित हो जाये फिर इसे सुबह-शाम खाने से लिवर सिरोसिस की बीमारी के लिए फायदेमंद होता है और रोग-प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत होती है !

2. प्याज को कई भागो में काटकर इसे बारीक पीसकर इसका रस 250 ml पानी में डालकर अच्छी तरह मिलाकर पीने से सिरोसिस की बीमारी से काफी राहत और अन्य बीमारी जैसे - गैस, पेट दर्द , ट्यूमर , कैंसर , पीलिया आदि सभी बीमारी के लिए अधिक फायदेमंद होता है और शरीर से विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाता है !

3. सिरोसिस की बीमारी के लिए भोजन का पाचन होना अति आवशयक होता है इसके लिए एक गिलास पानी में नीबू की कुछ बुँदे डालकर पीने से पाचन क्रिया ठीक होती है और पेट दर्द , गैस की बीमारी , निर्जलीकरण आदि सभी बीमारी के लिए अधिक फायदेमंद होता है !

4. लिवर की बीमारी और लिवर सिरोसिस की बीमारी के लिए घरेलू इलाज है एलोवेरा का जूस एलोवेरा का जूस पीने से लिवर स्वस्थ और रोग-प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है !
 
5. लिवर को स्वस्थ रखने के लिए स्वस्थ भोजन करना चाहिए लिवर को स्वस्थ रखने के लिए स्वस्थ भोजन जैसे - हरी सब्जी , फल , अनाज , अंडा , दूध , मछली ( कम मात्रा ) , कलेजी आदि सभी का सेवन करने से लिवर स्वस्थ और रोग-प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होती है !

6. सिरोसिस की बीमारी के प्रति चल रहे इलाज के दौरान प्रति दिन 2 अंडे का सेवन करने से सिरोसिस की बीमारी में मदद और इम्युनिटी मजबूत होती है !

7. आंवले का जूस 250 ml पानी में 10 ml आंवले का जूस का सेवन प्रतिदिन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत और शरीर से अवशिष्ट पदार्थ मल के द्वारा बाहर निकल जाते है सिरोसिस की बीमारी के लिए अधिक फायदेमंद होता है !

8. हल्दी पाउडर को एक गिलास दूध में पीने से कैंसर, रोग प्रतिरोधक क्षमता , चेहरे पर निखार , हड्डी मजबूत और अन्य प्रकार की बीमारी के लिए अधिक फायदेमंद होता है !

9. लिवर सिरोसिस बीमारी के लिए प्रतिदिन एक गिलास गन्ने के रस में पुदीना का जूस डालकर पीने से सिरोसिस जैसी जानलेवा बीमारी के लिए अधिक फायदेमंद होता है !

10. किसी भी बीमारी से बचाव एवं मात देने के लिए प्रतिदिन 2 केले का सेवन करने से रोग-प्रतिरोधक क्षमता मजबूत और बीमारी के प्रति अधिक फायदेमंद होता है !

11. तुलसी की पत्ती को निचोड़कर रस को पानी में मिलाकर पीने से लिवर के लिए अधिक लाभ एवं लिवर से जुड़ी सभी बीमारी के लिए तुलसी की पत्ती अधिक फायदेमंद होता है !

12. लिवर की बीमारी में डाइट प्लान के अनुसार भोजन करने से लिवर से जुड़ी बीमारी ठीक होती है और सभी बीमारी के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता का मजबूत होना डाइट प्लान अधिक फायदेमंद होता है !



good health food



No comments:

Powered by Blogger.