ऑयली त्वचा को दूर करने के लिए घरेलू उपचार - MyupChaars

Table of Contents. 



ऑयली त्वचा ( तैलीय त्वचा Oily skin) 

ऑयली त्वचा ( तैलीय त्वचा ) की समस्या प्रतिदिन लगातार बढ़ती जा रही है और इस समस्या का अभी तक कोई ठोस कारण का पता नहीं चल पाया है की तैलीय त्वचा का होने का क्या कारण है ! त्वचा ( स्किन )  4 प्रकार होती है जिसमे सभी प्रकार की त्वचा में पानी की मात्रा , वसा और त्वचा के रोमछिद्र के अनुसार पहचान की जाती है की आपकी त्वचा किस प्रकार की है ! ऑयली त्वचा होने के और भी कारण हो सकते है जैसे - मौसम के बदलाव , प्रदूषण , हार्मोनल बदलाव के कारण त्वचा पर उसके प्रकार के अनुसार हुए मौसम में बदलाव के कारण त्वचा पर असर दिखना शुरू हो जाता है और आपकी समस्या प्रतिदिन हुए त्वचा के प्रकार के अनुसार बढ़ती जाती है ! ऑयली त्वचा की इस बढ़ती समस्या को कम करने के लिए अलग-अलग प्रकार के दवा का सेवन और त्वचा पर अलग-अलग तरह की क्रीम का सेवन करने से त्वचा पर और समस्या बढ़ जाती है इस बढ़ती समस्या को कम करने के लिए सिर्फ एक ही उपाय होता है वह है घरेलू नुस्खे से ऑयली त्वचा को दूर किया जा सकता है !


तैलीय त्वचा Oily skin


ऑयली त्वचा ( तैलीय त्वचा ) क्या है ?

ऑयली त्वचा ( तैलीय त्वचा ) महिला / पुरूष के त्वचा पर मौसम के बदलाव के कारण त्वचा का चिपचिपा होना या त्वचा से निकलने वाले तैलीय पदार्थ को टीसू पेपर से साफ करने से टीसू पेपर पर ब्लैक दाग और चिपचिपा दाग का होना ही ऑयली त्वचा कहा जाता है ! महिला या पुरूष का त्वचा का ऑयली त्वचा होने से त्वचा पर कई प्रकार की समस्या होती है जैसे - त्वचा का काला , त्वचा पर कील-मुंहासे , त्वचा पर लाल दाने होना , त्वचा के टोन में बदलाव का होना आदि सभी प्रकार की समस्या हो सकती है इस समस्या का कारण क्या है नीचे लिखे लेख के द्वारा जानते है !


ऑयली स्किन ( Oily skin ) का कारण क्या है ?

तैलीय त्वचा जन्म के समय या मौसम के बदलाव के कारण ऑयली त्वचा का जन्म होता है एवं ऑयली स्किन के निम्नलिखित प्रकार के कारण हो सकते है !


1. अनुवांशिक - अनुवांशिक बीमारी खास माता-पिता से मिलने वाले बीमारी होते है इसी प्रकार अगर किसी माता-पिता का त्वचा अगर तैलीय त्वचा होती है तो वह प्रतिक्रिया उसके होने वाले बच्चे लड़के या लड़की का भी त्वचा ऑयली स्किन होता है !


2. प्रदुषण - बढ़ती प्रदुषण के कारण मानव वर्ग में विभिन्न प्रकार की बीमारी होती है और वह बीमारी शरीर के आतंरिक भाग में कहीं भी हो सकती है ! इसी प्रकार बढ़ती प्रदूषण से मानव के बाहरी शरीर पर कुछ इस प्रकार की बीमारी होती है जैसे - त्वचा का ऑयली , बाल झड़ना , त्वचा का सांवलापन , त्वचा का ड्राई आदि निम्न प्रकार की बीमारी हो सकती है !


3. मौसम बदलाव - सभी प्रकार की त्वचा मौसम के बदलाव के कारण जिस प्रकार की त्वचा होती है त्वचा पर असर दिखना शुरू हो जाता है !


4. हार्मोनल बदलाव - जिस प्रकार लड़की या लड़के के हार्मोनल बदलाव के कारण शरीर का बदलाव होना शुरू हो जाता है उसी प्रकार हार्मोनल के बदलाव से शरीर के बदलाव से त्वचा का बदलाव होता है और जिस प्रकार की त्वचा होती है उस पर असर दिखाई देना शुरू हो जाता है !


5. मेकअप - सभी लोग चाहते है की हम सुंदर और खूबसूरत दिखे इसलिए वह ज्यादा मेकअप करते है ! खूबसूरत दिखने के लिए ज्यादातर महिलाये मेकअप करती है पर क्या उन्हें मालूम है की मेकअप अधिक करने से त्वचा पर होने वाले रोमछिद्र क्रीम से ढक जाते है और त्वचा से निकलने वाले अवशिष्ट पदार्थ बाहर नहीं निकल पाते जिससे ऑयली त्वचा का कारण होता है !


मेकअप


6. खान-पान - व्यक्ति के जीवन में वह खाने-पीने में कई प्रकार का टेस्ट लेना चाहता पर क्या उन्हें मालूम है की खान-पान गलत करने से स्वास्थ पर कितना बुरा प्रभाव होता है ! इसी प्रकार खान-पान जैसे - अधिक मसाले , तेल सहित भोजन , मिर्च , मछली और मांस के अधिक सेवन से त्वचा पर अधिक प्रभाव होता है जिसका कारण त्वचा का ऑयली होना !


ऑयली त्वचा का लक्षण क्या है ?


ऑयली त्वचा के निम्न प्रकार के लक्षण है जो मौसम के बदलाव होने के कारण त्वचा पर कुछ इस प्रकार लक्षण दिखाई देता है !

1. ऑयली त्वचा के लक्षण दोपहर के समय चिपचिपा और अधिक पसीने त्वचा से निकलना !

2. ऑयली त्वचा मोटी परत खुरदुरा और त्वचा का रोम छिद्र अधिक स्पष्ट दिखाई देना !

3. तैलीय त्वचा पर जब भी मेकअप या कोई क्रीम का इस्तेमाल करते है तो वह त्वचा से निकल जाना ही तैलीय त्वचा का लक्षण है !

4. तैलीय त्वचा वाले व्यक्ति महिला / पुरूष का त्वचा का रंग सांवलापन अधिक लोगों का होता है !

5. तैलीय त्वचा का लक्षण टीसू पेपर पर पसीने को साफ करने के बाद टीसू पेपर पर काला दाग होना !

6. तैलीय त्वचा पर पसीना होने पर त्वचा पर जलन होता है !

7. तैलीय त्वचा पर अधिक पसीना होने से त्वचा पर अवशिष्ट पदार्थ का जमा होना होता है !


तैलीय त्वचा से कैसे करे बचाव ?


तैलीय त्वचा के लक्षण जानने के बाद तैलीय त्वचा के उपाय निम्नलिखित प्रकार से किया जा सकता है !

1. तैलीय त्वचा वाले व्यक्ति महिला / पुरूष को जब भी घर से बाहर जाये तो चेहरे को ढक कर घर से बाहर जाये और अगर फिर भी त्वचा से पसीने निकलते है तो टीसू पेपर का इस्तेमाल करे !

2. तैलीय त्वचा वाले व्यक्ति को निम्न बातों पर ध्यान देना चाहिए जैसे - खाने में मछली , मुर्गे , मांस और मसाले , मीर्च आदि सभी का सेवन खाने में नहीं करना चाहिए !

3. ऑयली स्किन को दिन में 2 से 3 बार ठंडे पानी से धुलना चाहिए !

4. अधिक गर्म वाले स्थान पर तैलीय त्वचा के व्यक्ति को काम नहीं करना चाहिए ! 

5. तैलीय त्वचा के व्यक्ति को प्रतिदिन योग एवं व्यायाम करना चाहिए !

6. धूप से त्वचा का बचाव करना चाहिए ! 

7. त्वचा का बैलेंस बनाये रखने के लिए फाइबर युक्त सब्जी का सेवन करना चाहिए !


तैलीय त्वचा से कैसे करे बचाव



ऑयली त्वचा ( व्यक्ति ) के प्रति जीवन शैली में करें यह बदलाव


ऑयली त्वचा के सभी व्यक्ति महिला / पुरूष के लिए जीवन शैली में कुछ इस प्रकार करे बदलाव !

1. तैलीय त्वचा के व्यक्ति को दिन में 5 से 7 लीटर पानी पीना चाहिए जिससे शरीर का तापमान सही रहना चाहिए !

2. केमिकल से बने कॉस्मेटिक प्रोडक्ट का इस्तेमाल तैलीय त्वचा पर नहीं करना चाहिए क्योंकि तैलीय त्वचा पर इसका बुरा प्रभाव होता है !

3. त्वचा पर किसी गर्म पदार्थ का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए जैसे - ब्लीच क्रीम , पेंडर्म क्रीम आदि !

4. फाइबर युक्त फल एवं सब्जी का सेवन करना चाहिए !

5. प्रतिदिन साधारण एवं पाचन युक्त भोजन करना चाहिए !

6. पेट साफ होना चाहिए और किसी प्रकार की गैस की शिकायत नहीं होना चाहिए !

7. ऑयली त्वचा को कम करने के लिए घरेलू नुस्खे का इस्तेमाल करना चाहिए !

8. ऑयली त्वचा को कम करने के लिए किसी एलोपैथिक और क्रीम का इस्तेमाल त्वचा पर नहीं करना चाहिए क्योंकि इनके इस्तेमाल से त्वचा पर बुरा प्रभाव होता है !

9. धूप से बचाव के लिए फेस मास्क का इस्तेमाल करना चाहिए !

10. चेहरे या त्वचा को अच्छी तरह घरेलू नुस्खे से मॉइस्चराइज क्योंकि त्वचा पर नमी बानी रहे !

11. ऑयली त्वचा वाले व्यक्ति को चाय , तंबाकू , मदिरा और नशीली पदार्थ आदि का सेवन नहीं करना चाहिए !


ऑयली त्वचा ( व्यक्ति ) के प्रति जीवन शैली में करें यह बदलाव


मात्र 10 दिन में ऑयली त्वचा का घरेलू उपचार 


ऑयली त्वचा के सभी व्यक्ति अगर काफी दिन से ऑयली त्वचा से परेशान और अन्य प्रकार के दवा का सेवन करने के बाद उन्हें कोई परिणाम नहीं मिला और अब वह अधिक परेशान और थक चुके है तो उनके लिए मायउपचार के लेख द्वारा कुछ ऐसे घरेलू उपचार के बारे में बताया जायेगा जो उनके द्वारा इस्तेमाल करने से मात्र 10 दिन में ऑयली त्वचा को दूर किया जा सकता है !


1. पपीता ऑयली त्वचा के लिए फायदेमंद होता है !


ऑयली त्वचा को दूर करने के लिए पपीता अधिक फायदेमंद होता है ! पके हुए पपीता को काटकर उसके अंदर बीज को निकालकर त्वचा पर 20 मिनट लगाकर हल्के गुनगुना पानी से धुलने पर इसके कई प्रकार के फायदेमंद होते है जैसे - त्वचा का ऑयलीपन दूर होना , शुष्क त्वचा से राहत , त्वचा पर जलन को कम करता है , त्वचा पर निखार आदि सभी प्रकार के फायदेमंद होते है !


2. मुल्तानी मिट्टी ऑयली त्वचा को दूर करने के लिए फायदेमंद होता है !

मुल्तानी मिट्टी को स्किन त्वचा पर आवश्यकता अनुसार लगाने योग्य उसे भिगों कर 10 मिनट छोड़ दे और 10 मिनट बाद उसे त्वचा पर हल्के हाथों से लगाए और कुछ देर बाद ठंडे पानी से धुले ऐसा हप्ते में 2 से 3 बार करने से त्वचा मुलायम और ऑयलीपन से छुटकारा मिलता है !


3. गेंहू को 10 मिनट भिगोकर त्वचा पर लगाए फायदे अनेक होते है !


गेंहू को 10 मिनट भिगोकर छोड़ दे और फिर गेंहू को मिक्सर की मदद से इसे बारीक पीसकर इसमें सामान मात्रा में पानी मिलाकर त्वचा पर लगाने से त्वचा पर होने सभी समस्या दूर होती है जैसे - ऑयली त्वचा , पिम्पल्स , दाग , त्वचा पर जलन आदि सभी प्रकार की समस्या दूर होती है !


4. टमाटर का पेस्ट बनाकर त्वचा पर इस्तेमाल करने से तैलीय त्वचा दूर होती है !

मात्र एक हप्ते में तैलीय त्वचा को घरेलू नुस्खे टमाटर से दूर करे टमाटर को पेस्ट बनाने के लिए देशी टमाटर और अधिक मात्रा में रस हो ! टमाटर को बारीक काटकर इसमें थोड़ी मात्रा में बारीक पीसी हुई हल्दी पाउडर को मिलाकर मिक्सर में बारीक पीसकर पेस्ट तैयार करे और इसे स्किन त्वचा पर लगाए और 10 मिनट बाद ठंडे पानी से धुले ऐसा करने से त्वचा का ऑयलीपन दूर होता है और त्वचा पर निखार आता है !


5. हल्दी पाउडर और शहद ऑयली त्वचा के लिए फायदेमंद होता है !


हल्दी पाउडर को बारीक पीसकर इसमें शहद को सामान मात्रा में मिलाकर इसे थोड़ी देर हल्के आंच पर गर्म करे और फिर ठंडा होने पर त्वचा पर लगाए ,त्वचा पर लगाने से इसके अनेक फायदे होते है जैसे - त्वचा का ऑयली दूर होना , त्वचा पर निखार , पिम्पल्स आदि सभी प्रकार के लिए फायदेमंद होता है !


मात्र 10 दिन में ऑयली त्वचा का घरेलू उपचार


6. खीरा या तरबूज की मदद से त्वचा का ऑयलीपन दूर करें !


त्वचा पर खीरा को काटकर मसाज करने से त्वचा का ऑयलीपन दूर होता है और या फिर तरबूज को बारीक छोटे टुकड़ो में काटकर चेहरे पर लगाए और ठंडा पानी से धुले और इसके बाद शहद लगाकर थोड़ी देर छोड़ दे और साफ पानी से धुले इसके अनेक फायदे होते है !


7. दही सभी प्रकार के त्वचा के लिए अधिक फायदेमंद होता है !


दही सभी प्रकार के त्वचा के लिए फायदेमंद होता है और दही का इस्तेमाल करने से पहले दही शुद्ध और अधिक खट्टा नहीं होना चाहिए नहीं तो यह त्वचा पर बुरा प्रभाव हो सकता है ! दही को रात को सोते समय चेहरे पर लगाए और सुबह इसे ठंडा पानी से धुल ले और इस नुस्खे का इस्तेमाल दिन में सुबह और शाम को करने से अधिक फायदा होता है !


8. त्वचा के लिए सेब के बने सिरका का इस्तेमाल करने से त्वचा का ऑयलीपन दूर होता है !


त्वचा के सभी प्रकार की समस्या के लिए सेब अधिक फायदेमंद होता है और सेहत के लिए अधिक लाभदायक होता है !

सेब के बने सिरका को त्वचा पर लगने से पहले इसका पेस्ट तैयार करे थोड़ी मात्रा में शहद को सेब के सिरके के साथ मिलाकर त्वचा पर लगाने से त्वचा का तैलीय पन दूर होता है और त्वचा पर निखार बढ़ता है और इसके अनेक फायदे होता है !

त्वचा के लिए सेब के बने सिरका का इस्तेमाल करने से त्वचा का ऑयलीपन दूर होता है


9. हल्दी और मोम से त्वचा पर सभी प्रकार की समस्या दूर होती है !


हल्दी में मौजूद तत्व जैसे एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण पाए जाते है जो त्वचा और सेहत के लिए अधिक फायदे होते है ! हल्दी और मोम का पेस्ट तैयार करने के लिए सबसे पहले एक पात्र की आवश्यकता होती है इस पात्र में 2 चमच हल्दी पाउडर और एक चमच मोम टुकड़ा लेकर इसे मिलाकर थोड़ी देर गर्म करे और गर्म होने पर त्वचा पर लगाये इस प्रकार दिन 1 बार  इस्तेमाल करने से त्वचा का ऑयलीपन दूर होता है !


10. एलोवरा सभी प्रकार के त्वचा लिए और त्वचा पर होने सभी समस्या के लिए अधिक फायदेमंद !

एलोवेरा आप सभी लोग जानते है की एलोवेरा त्वचा के लिए और सेहत के लिए अधिक फायदेमंद है ! एलोवेरा में एंटीऑक्सीडेंट और एंटीबैक्टीरियल गुण पाया जाता है और यह त्वचा पर इसके इस्तेमाल  करने से त्वचा का ऑयलीपन दूर होता है और त्वचा पर निखार आता है !


एलोवरा सभी प्रकार के त्वचा लिए और त्वचा पर होने सभी समस्या के लिए अधिक फायदेमंद


ऑयली त्वचा वाले व्यक्ति को डॉक्टर से संपर्क कब करना चाहिए ?


ऑयली त्वचा के व्यक्ति को अगर सभी प्रकार के उपचार के बाद ऑयली त्वचा ठीक नहीं हो रही है और त्वचा पर प्रतिदिन और समस्या बढ़ती जा रही है जैसे - त्वचा पर रेसेस , मुंहासे , त्वचा का रोमछिद्र बड़ा होना आदि सभी प्रकार की समस्या होती है तो आप तुरंत डॉक्टर से इसके बारे में सलाह लेना चाहिए !


POPULAR POSTS

No comments:

Powered by Blogger.